HOME BLOG PORTFOLIO PHOTO CONTACT
my poem

 Poem1:

 

आज का ज्ञान

भूत-प्रेत और मासूम बीवी मन का वहम है,

मनुष्य के जीवन में ऐसा कुछ नहीं होता है.

 

   Share on Facebook

Page views:7298